रोजगार दिलाने में नाकाम सरकार ले रही झूठ का सहारा : वंशराज दुबे

Reading Time: 3 minutes
आम आदमी पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर प्रेस वार्ता को संबोधित करते पार्टी पदाधिकारी

आम आदमी पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर पत्रकार वार्ता में छात्र विंग सीवाईएसएस के प्रदेश अध्यक्ष ने आरटीआई के हवाले से बोला योगी सरकार पर हमला
लखनऊ : युवाओं को रोजगार दिलाने में नाकाम उत्तर प्रदेश सरकार के मुखिया योगी आदित्यनाथ अपनी नाकामी छिपाने के लिए झूठ का सहारा लेने लगे हैं। एक तरफ प्रदेश के युवा नौकरी के लिए दर-दर भटक रहे हैं तो दूसरी तरफ सरकार विज्ञापनों के जरिए उन्हें रोजगार देने का ढिंढोरा पीट रही है। मुख्यमंत्री भी इसमें पीछे नहीं हैं। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग में नियुक्तियों के संबंध में उनका झूठ एक आरटीआई के जरिए सामने आया है। ये बातें आम आदमी पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर सोमवार को आयोजित प्रेस वार्ता में छात्र विंग के प्रदेश अध्यक्ष वंशराज दुबे ने कहीं।
उन्होंने कहा कि 2017 में 90 दिनों के अंदर प्रदेश भर में खाली सभी पदों को भरने की बात करके सत्ता में आई योगी सरकार ने रोजगार के मुद्दे पर नौजवानों के साथ सिर्फ छल करने का काम किया है। कभी योगी जी कहते हैं कि उत्तर प्रदेश में नौकरियां तो बहुत हैं, लेकिन यहां का नौजवान उसके लायक नहीं हैं। उत्तर प्रदेश के नौजवानों को नालायक समझने वाले आदित्यनाथ जी जरा यह बताएं कि सितंबर 2020 में ट्वीट करके 2017 से 2020 तक उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग में 16708 पदों पर नियुक्तियां कर लेने का झूठ क्यों बोला?
वंशराज दुबे ने कहा, आपके झूठ का पर्दाफाश एक आरटीआई से हो चुका है। इसके जवाब में खुद आपकी सरकार ने बताया है कि 2017 से 2020 तक केवल 12387 पदों पर ही उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने भर्तियां निकालीं। ये सारी की सारी भर्तियां आज भी विभिन्न कारणों से लंबित चल रही हैं। वंशराज दुबे ने आरोप लगाया कि नौजवानों को धोखा देने के लिए सरकार ने आकड़े भी बढ़ाकर बताए। कहा, प्रदेश के अन्य आयोगों की भर्तियों का भी यही हाल है। उत्तर प्रदेश का नौजवान इस सरकार में किस कदर ठगा गया, आरटीआई से मिली जानकारी इसका प्रमाण है। इस बात से यह सिद्ध होता है कि उत्तर प्रदेश का नौजवान होनहार और लायक है। उन्हें नालायक समझने वाली आदित्यनाथ सरकार खुद निकम्मी और नालायक है। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग में चाहे वह ग्राम पंचायत अधिकारी 2018 की भर्ती हो या गन्ना पर्यवेक्षक की। एग्रीकल्चर टेक्निकल असिस्टेंट की भर्ती हो या दरोगा और लेखपाल की भर्ती, नौजवान चयनित होकर अपनी नियुक्ति पत्र के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहा है। नए विज्ञापन भी नहीं निकाले जा रहे हैं। वंशराज दुबे ने कहा, राजधानी में जब 49568 पदों के लिए पीएसी और पुलिस के नौजवान अपनी मेडिकल कराने को लेकर आदित्यनाथ सरकार से गुहार लगाते हैं तो उनको लाठियों से पीटा जाता है और उठाकर इको गार्डन बंद कर दिया जाता है। नौजवानों के रूप में गांव, गरीब, किसान, मजदूरों के बच्चों की आवाज को यह सरकार निरंतर दबाने पर तुली हुई है।

योगी का ट्विटर हैंडलर चलाने वाले पर हो एनएसए की कार्रवाई
प्रेस वार्ता में आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश के मुख्य प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने कहा कि नौकरियों का फर्जी आंकड़ा सीएम के ट्विटर हैंडलर से दिया गया। फर्जी ट्वीट करने पर जब आमजन लोगों पर एफआईआर होती है तो सीएम कार्यालय और सीएम के ट्विटर चलाने वाले के खिलाफ भी केस हो। आरटीआई में एक भी भर्ती क्लियर नहीं हुई, मगर सरकार अपने ट्विटर से 16700 पदों पर नियुक्ति दे दी। आखिर, मुख्यमंत्री योगी कौन सा मादक पदार्थ खाकर सरकार चला रहे हैं। गलत ट्वीट को लेकर उन्होंने तंज किया कि इसकी जांच के लिए मुख्यमंत्री फिर कोई एसआईटी न बनाएं। प्रदेश में एसआईटी की जांच का क्या होता है, यह सभी जानते हैं। आप सांसद संजय सिंह जी यह पहले कह चुके हैं कि तमाम घटनाओं में पहले बनी एसआईटी का क्या परिणाम हुआ है, इसकी जांच के लिये भी मुख्यमंत्री जी को एक नई एसआईटी बना देनी चाहिए। मुख्यमंत्री युवाओं को भटका रहे हैं। जब वह रोजगार की मांग करते हैं तो उन पर लाठीचार्ज किया जाता है। सच बोलने वाले पत्रकारों के ऊपर लाठियां चलाई जाती हैं और झूठ फैलाकर मुख्यमंत्री अपने आप पर गर्व महसूस करते हैं। आम आदमी पार्टी का मांग करती है कि अभी तक जितनी भी सरकार ने सरकारी पदों पर भर्तियां की हैं उन सभी को वेबसाइट पर डाल दें, जिससे दूध का दूध पानी का पानी हो जाए। माननीय प्रधानमंत्री जी ने सदन के अंदर भाषण पर प्रतिक्रिया देते हुए वैभव माहेश्वरी ने कहा कि मोदी राज में भारत अवसरों की भूमि नहीं, झूठे वादों की भूमि बन चुका है। भारत दिखावे की भूमि बन चुका है। भारत अब फर्जी भाषणों की भूमि बन चुका है। योगी आदित्यनाथ जी प्रधानमंत्री जी के भाषण की ही गरिमा रख लीजिए और बताइए कि आपने वास्तव में कितनी अभी तक किन किन पदों पर कितने लोगों की भर्तियां की हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

तिरंगा यात्रा में जा रहे सांसद संजय सिंह को हिरासत में लेना बयां कर रहा योगी सरकार का डर : महेंद्र प्रताप सिंह

आयोजन स्थल पर पुलिस का भारी पहरा, कई कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी किए गए हाउस अरेस्ट वाराणसी : तिरंगा यात्रा में शामिल होने जा रहे आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद एवं यूपी प्रभारी संजय सिंह को बाबतपुर एयरपोर्ट रोड से गणेशपुर तरना के समीप पुलिस द्वारा रोक लिया गया है। प्रदेश प्रवक्ता महेंद्र प्रताप सिंह […]

सफाई कर्मचारी अरुण के परिवार को मिले न्यायः संजय सिंह

एक करोड़ रुपये सहायता राशि, परिजन को सरकारी नौकरी और दोषी पुलिसकर्मियों को जेल हो -यूपी में दलितों के साथ बढ़ता जा रहा अत्याचार : संजय सिंह लखनऊ : आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य और यूपी के प्रभारी संजय सिंह ने बुधवार को योगी आदित्यनाथ की सरकार पर तमाम तथ्यों के साथ गंभीर आरोप […]

error: Content is protected !!
Designed and Developed by CodesGesture